होम/मंत्र-यंत्र संग्रह/गायत्री यंत्र

गायत्री यंत्र

गायत्री यंत्र को गायत्री मंत्र से प्रतिष्ठित किया जाता है। इस यंत्र की उपासना से व्यक्ति लौकिक उपलब्धियों को लांघ कर आध्यात्मिक उन्नति को स्पर्श करने लग जाता है। व्यक्ति का तेज मेधा व धारणा शक्ति बढ जाती है। इस यंत्र के प्रभाव से पूर्व में किये गये पाप कर्मों से मुक्ति मिल जाती है। गायत्री माता की प्रसन्नता से व्यक्ति में श्राप व आशीर्वाद देने की शक्ति आ जाती है। व्यक्ति की वाणी और चेहरे पर तेज बढने लगता है।
सुबह जल्दी उठकर नित्य कर्मों से निवृत्त होकर प्रतिदिन गायत्री यंत्र की पंचोपचार पूजा करना चाहिए। साथ ही गायत्री मंत्र का जप भी यथाशक्ति करना चाहिए। ऐसा करने से शीघ्र फल मिलने लगते हैं।

ॐ भूर्भुवः स्वः तत्सवितुर्वरेण्यम् भर्गो देवस्य धीमहि धियों यो नः प्रचोदयात्।