होम/मंत्र-यंत्र संग्रह/कुबेर यंत्र

कुबेर यंत्र

स्वर्ण लाभ, रत्न लाभ, गड़े हुए धन का लाभ एवं पैतृक सम्पत्ती का लाभ चाहने वाले लोगों के लिए कुबेर यंत्र अत्यन्त सफलता दायक है। यह यंत्र स्वर्ण और रजत पत्रों से भी निर्मित होता है। कुबेर यंत्र विजय दसमीं धनतेरस दीपावली तथा पुष्य नक्षत्र और गुरुवार या रविवार को बनाया जाता है। विशेष रूप से धनतेरस और दीपावली के दिन इस यंत्र को लक्ष्मी-गणेश जी की पूजा के उपरांत पूजने के बाद मंदिर, पूजा स्थल, धनकोष या तिजोरी में रखना चाहिए।

कुबेर यंत्र के लिए ‘ऊँ वैश्रवणाय स्वाहा’ या ‘ऊँ कुबेराय नमः’ मंत्र का दस हजार या सवालाख जाप करें।