होम/मंत्र-यंत्र संग्रह/श्री यंत्र

श्री यंत्र

माना जाता है कि जिस घर में श्रीयंत्र की श्रद्घाभाव से नियमित पूजा होती है उस घर में निरंतर धन समृद्घि बढ़ती रहती है।इस यंत्र को धन वृद्धि, धन प्राप्ति, कर्ज से सम्बन्धित धन पाने के लिए , लाटरी, सट्टा आदि द्वारा धन पाने के लिए उपयोग में लाया जाता है। श्री यंत्र के सम्मुख श्री सूक्त का नियमित पाठ करने से घर में निरंतर धन समृद्घि बढ़ती रहती है। इस यंत्र को सम्मुख रखकर सूखे वेलपत्र घी में डुबोकर वेल की समिधा में आहूति डालने से मां भगवती शीघ्र ही प्रसन्न होती है।

बीज मंत्र: - श्री ह्री श्री कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद श्री ह्रीं श्री महालक्ष्म्यै नमः ।

इस बीज मंत्र का 21000 से लेकर सवा लाख बार जप किया जा सकता है। जप के पश्चात दशांश हवन, दशांश तर्पण और दशांश मार्जन अवश्य करना चाहिए।